Follow us on Facebook

न पाने की तमन्ना hd image shayari

न पाने की तमन्ना hd image shayari


​याद जब आती है तुम्हारी तो सिहर जाता हूँ मैं, 
देख कर साया तुम्हारा अब तो डर जाता हूँ मैं, 
अब न पाने की तमन्ना है न है खोने का डर, 
जाने क्यूँ अपनी ही चाहत से मुकर जाता हूँ मैं​....!!!

I remember when it comes to you, then simmering,
So now I'm afraid to see your shadow,
Not now, not coveted by the fear of losing,
Why am I going to deny your own desires .... !!!
न पाने की तमन्ना hd image shayari न पाने की तमन्ना hd image shayari Reviewed by Ridhi Patel on 1/13/2017 03:01:00 am Rating: 5